किशोर कुमार का संक्षिप्त जीवन परिचय (Brief biography of Kishore Kumar)

Kishore Kumar biography

किशोर कुमार के बारे में जितनी भी बात की जाए वह कम है। वह एक पाशर्व गायक, अभिनेता,  संगीत निर्माता,  गीतकार,  पटकथा लेखक,  फिल्म निर्माता और निर्देशक रह चुके हैं। वह जितने अपनी फिल्मों के विषय में लोकप्रिय है उससे कहीं जाता अपने  सरल,  चंचल और मिलनसार व्यवहार के लिए वह जाने जाते हैं। उन्होंने वर्ष  1940 में शिकारी फिल्म से हिंदी सिनेमा में पदार्पण किया था। इस फिल्म के मुख्य अभिनेता तो उनके बड़े भाई अशोक कुमार थे। बतौर गायक वर्ष 1948 में उन्होंने ज़िद्दी फिल्म में मरने की दुआएं क्यों मांगू से हिंदी सिनेमा में पदार्पण किया था। वर्ष 1970 से 1980 के पूरे दशक में वह सबसे लोकप्रिय गायकों में से एक रहे। उनके गायकी के करियर का अधिकतर सफर राजेश खन्ना के साथ रहा। वर्ष 1975 से 1977 के दौरान भारत इमरजेंसी के दौरान संजय गांधी ने उनसे कांग्रेस पार्टी के लिए रैली में गाने के लिए कहा परंतु उन्होंने इसके लिए इंकार कर दिया। वह अपने करियर के साथ-साथ अपने निजी जीवन के बारे में भी चर्चा में रहते थे।  किशोर कुमार ने कुल 4 शादियां की थी जिनमें से लीना चंदावरकर उनकी अंतिम चौथी पत्नी थी। मधुबाला के साथ उनकी जोड़ी को सबसे अधिक पसंद किया जाता था। 13 अक्टूबर 1987 को घातक हृदयाघात के कारण 58 वर्ष की आयु में उनका देहांत हो गया।

 किशोर कुमार का जन्म और उनकी पारिवारिक पृष्ठभूमि (Kishore Kumar’s birth and his family background)

किशोर कुमार का जन्म 4 अगस्त 1929 को खंडवा,  सेंट्रल प्रोविंस ( मध्य प्रदेश) ब्रिटिश इंडिया के समय हुआ था। यह एक बंगाली ब्राह्मण गांगुली परिवार से संबंध रखते हैं। इनका बचपन का वास्तविक नाम आभास कुमार गांगुली है। इनके पिता कुंजलाल गांगुली ( गंगोपाध्याय) एक वकील थे जबकि इनकी माता गौरी देवी  एक अमीर बंगाली परिवार से संबंध रखती थी और वह गृहणी थी। किशोर कुमार चार भाई-बहनों में सबसे छोटे थे। इन के सबसे बड़े भाई हिंदी सिनेमा के दिग्गज अभिनेता अशोक कुमार और दूसरे भाई अनूप ( कल्याण कुमार गांगुली) है। इनकी एक बहन भी है जिनका नाम सती देवी है।

 किशोर कुमार के शैक्षणिक योग्यता (Educational Qualification of Kishore Kumar)

किशोर कुमार की प्रारंभिक स्कूली शिक्षा तथा स्कूल के विषय में जानकारी नहीं मिलती है। बचपन में ही उन्होंने अपने बड़े भाई अशोक कुमार के साथ हिंदी सिनेमा में काम करना शुरू कर दिया था और बाद में  उनके दूसरे भाई अनूप ने भी अशोक कुमार की हिंदी सिनेमा में सहायता की। किशोर कुमार के शिक्षा के विषय में केवल इतना ही ज्ञात है कि उन्होंने क्रिश्चियन कॉलेज इंदौर से स्नातक की शिक्षा प्राप्त की है।

किशोर कुमार के व्यक्तिगत जानकारी (Personal Information of Kishore Kumar)

वास्तविक नामआभास कुमार गांगुली
उपनामकिशोर दा 
लोकप्रिय नामकिशोर कुमार
किशोर कुमार का जन्मदिन4 अगस्त 1929
किशोर कुमार की आयु58 वर्ष ( मृत्यु के समय)
किशोर कुमार का जन्म स्थानखंडवा,  सेंट्रल प्रोविंस ( वर्तमान मध्य प्रदेश) ब्रिटिश इंडिया
किशोर कुमार की मृत्यु तिथि13 अक्टूबर 1987
किशोर कुमार का मृत्यु स्थानबॉम्बे ,  महाराष्ट्र भारत
किशोर कुमार की मृत्यु काहृदयाघात ( आर्ट अटैक) 
किशोर कुमार का पतागौरी कुंज,  किशोर कुमार गांगुली मार्ग,  जूहू मुंबई
किशोर कुमार की राष्ट्रीयताभारतीय
किशोर कुमार का धर्महिंदू
किशोर कुमार की जातिबंगाली कन्यकुब्ज ब्राह्मण
किशोर कुमार की शैक्षणिक योग्यतास्नातक
किशोर कुमार के स्कूल का नामज्ञात नहीं
किशोर कुमार के कॉलेज का नामक्रिश्चियन कॉलेज इंदौर
किशोर कुमार का व्यवसायपाशर्व गायक,  अभिनेता,  म्यूजिक कंपोजर,  गीतकार,  पटकथा लेखक,  फिल्म निर्देशक और निर्माता
किशोर कुमार की कुल संपत्ति20  करोड रुपए के लगभग
किशोर कुमार के वैवाहिक स्थितिविवाहित

किशोर कुमार की शारीरिक संरचना (Body structure of Kishore Kumar)

किशोर कुमार की लंबाई5 फुट 8 इंच
किशोर कुमार का वजन75 किलोग्राम
किशोर कुमार का शारीरिक मापछाती 40 इंच,  कमर 34 इंच,  बाइसेप्स 13 इंच
किशोर कुमार की आंखों का रंगकाला
किशोर कुमार के बालों का रंगकाला

 किशोर कुमार का परिवार (Kishore Kumar family)

किशोर कुमार के पिता का नामकुंजलाल गांगुली ( गंगोपाध्याय)
किशोर कुमार की माता का नामगौरी देवी
किशोर कुमार के भाइयों का नामअशोक कुमार और  अनूप कुमार
किशोर कुमार के बहन का नामसती देवी
किशोर कुमार की पत्नी का नामरूमा गुहा ठाकुर्ता ( पहली पत्नी –  वर्ष 1950 से 1958 तक)
मधुबाला ( दूसरी पत्नी –  वर्ष 1960 से 1969 तक)
योगिता बाली ( तीसरी पत्नी –  वर्ष 1975 से 1978 तक)
लीना चंदावरकर ( चौथी पत्नी –  वर्ष 1980 से  1987 तक) 
किशोर कुमार के बेटों का नामअमित कुमार ( पहली पत्नी रूमा गुहा ठाकुर्ता से)
 सुमित कुमार (  चौथी पत्नी लीना चंदावरकर से)

किशोर कुमार का हिंदी सिनेमा में बतौर अभिनेता पदार्पण (Kishore Kumar’s debut in Hindi cinema as an actor)

किशोर कुमार ने वर्ष 1946 में सबक बी. वचा द्वारा निर्देशित फिल्म शिकारी  से हिंदी सिनेमा में पदार्पण किया था परंतु इस फिल्म में मुख्य अभिनेता अशोक कुमार थे। वर्ष 1947 में आई शहनाई फिल्म में उन्होंने एक पुलिस इंस्पेक्टर का किरदार निभाया था। वर्ष 1956 में एम वी रमन द्वारा निर्देशित फिल्म भाई भाई  में उनके अभिनय को खूब पसंद किया गया। इस फिल्म में भी इनके बड़े भाई का किरदार अशोक कुमार ने ही निभाया था। 

किशोर कुमार को अभिनय के क्षेत्र में सबसे अधिक लोकप्रियता पहली बार वर्ष 1958 में सत्येन बोस  द्वारा निर्देशित म्यूजिकल कॉमेडी ड्रामा फिल्म चलती का नाम गाड़ी से प्राप्त हुई थी।  इस फिल्म में किशोर कुमार ने  मनमोहन  उर्फ  मनु  शर्मा का किरदार निभाया था। इस फिल्म में भी उनके सह कलाकार अशोक कुमार  और अनूप कुमार थे। इस फिल्म की मुख्य अभिनेत्री मधुबाला थी। इस फिल्म की सफलता के पश्चात उन्होंने एक के बाद एक कई सुपरहिट  फिल्मों  जैसे कि शरारत वर्ष 1959,  झुमरू वर्ष 1961,  हाफ टिकट  वर्ष 1962,  हम सब उस्ताद हैं वर्ष 1965,  पड़ोसन  वर्ष 1968,  साधु और शैतान  वर्ष 1968, बॉम्बे टू गोवा वर्ष 1972, बढ़ती का नाम दाढ़ी वर्ष 1974 आदि में काम किया। किशोर कुमार ने लगभग 88 फिल्मों में अभिनय किया है।

 किशोर कुमार का बतौर पाश्र्व गायक  हिंदी सिनेमा में पदार्पण (Kishore Kumar’s debut in Hindi cinema as a playback singer)

किशोर कुमार एक उम्दा अभिनेता ही नहीं बल्कि भारत के  पाश्र्व गायकों में से एक हैं। यह उनके होना और उनकी आवाज का जादू ही है कि आज भी उनके गाए हुए गीतों को सभी उम्र के लोग बड़े प्यार से सुनते हैं।  उन्होंने शास्त्रीय संगीत नहीं सीखा था फिर भी उनकी संगीत पर पकड़ बहुत अच्छी थी। किशोर कुमार ने 1198 फिल्मों में लगभग 2678  गीत गाए हैं। जिनमें से उन्होंने  केवल राजेश खन्ना के लिए 92 फिल्मों में  245  गीत गाए हैं।

 किशोर कुमार ने केवल हिंदी सिनेमा के गीत ही नहीं बल्कि भजन,  कव्वालियां और गजलें भी गाए हैं जैसे कि  भजन –  आओ कन्हाई मेरे धाम,  देवी माता रानी,  जय भोलेनाथ जय हो प्रभु आदि। कव्वाली –  वादा तेरा वादा,  हम तो झुक कर सलाम करते हैं,  महफिल में पैमाना जो लगा झूमने,  हाल क्या है दिलों का आदि। गजल –  पिछली याद भुला दो,  यूं नींद से वह जाने चमन,  तेरा चेहरा मुझे गुलाब लगे आदि।

किशोर कुमार की मृत्यु (Death of Kishore Kumar)

वर्ष 1987 में  वह गायकी से  रिटायरमेंट लेने के लिए सोच रहे थे क्योंकि वह म्यूजिक कंपोजर्स द्वारा बनाए गए संगीत  से बहुत नाखुश थे। किशोर कुमार अपने जन्म स्थान खंडवा में जाने का विचार बना चुके थे। किशोर कुमार ने अपने जीवन का अंतिम गीत आशा भोसले के साथ फिल्म वक्त की आवाज के लिए  गुरु गुरु  गाया था। 13 अक्टूबर 1987 को घातक  हृदयाघात के कारण उनका शाम के समय 4:45 बॉम्बे में अपने घर में ही देहांत हो गया। अंतिम संस्कार के लिए उनको उनके जन्म स्थान खंडवा में ले जाया गया था।

किशोर कुमार के अवार्ड और सम्मान (Awards and Honors of Kishore Kumar)

वर्ष 1970 सर्वश्रेष्ठ पार्श्व गायक  गीत  रूप तेरा मस्ताना

 वर्ष 1976  सर्वश्रेष्ठ पार्श्व गायक  गीत  दिल ऐसा किसी ने मेरा तोड़ा

 वर्ष 1979  सर्वश्रेष्ठ पार्श्व गायक   गीत खईके पान बनारस वाला 

 वर्ष 1981  सर्वश्रेष्ठ पार्श्व गायक  गीत  हजार राहें मुड़ के देखी

 वर्ष 1983  सर्वश्रेष्ठ पार्श्व गायक  गीत  पग घुंघरू बांध 

 वर्ष 1984  सर्वश्रेष्ठ पार्श्व गायक  गीत  अगर तुम ना होते

 वर्ष 1985  सर्वश्रेष्ठ पार्श्व गायक  गीत  मंजिले अपनी जगह है

 वर्ष 1986  सर्वश्रेष्ठ पार्श्व गायक  गीत  सागर किनारे

error: Content is protected !!